22 नवंबर को करेंगे मुख्यमंत्री निवास घेराव – सन्नी सिंह होरा (जिला उपाध्यक्ष)JCCJ

add

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के जिला उपाध्यक्ष श्री सन्नी सिंह होरा ने कहा कि सहारा इंडिया समूह में छत्तीसगढ प्रदेश के गरीब और मध्यम वर्ग के लोग इस उम्मीद के साथ पैसा जमा कर रहे थे कि मेच्योरिटी के बाद – एकमुश्त राशि जो वापस मिलेगी उससे कोई बडा काम हो जायेगा, जैसे किसी परिजन का ईलाज, आपरेशन, मकान बनाने का सपना, व्यवसाय, बेटा या बेटी की शादी इत्यादि लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि परिपक्वता समयावधि ( मेच्योरिटी ) के तीन साल से अधिक समय बीत जाने के बाद भी लाखों गरीब निवेशकों का हजारों करोड़ रुपये सहारा इंडिया समूह द्वारा जमाकर्ता/निवेशकों को राशि भूगतान नही किया जा रहा है।

जिससे परेशान निवेशकों और एजेंटो के मध्य रोज विवाद होने लगा है, गौरतलब है कि सहारा इंडिया समूह में न केवल गरीब जमाकर्ताओं के बल्कि हर एक एजेंट का व्यक्तिगत लाखों रुपए भुगतान बाकी है,, एजेंटो के द्वारा निवेशकों के भुगतान को लेकर शुरू से ही सहारा प्रबंधन पर दबाव भी बनाया गया किंतु सहारा प्रबंधन द्वारा लगातार गुमराह किया गया, तब जाकर एजेंटों ने एकजुट होकर “कवच जन कल्याण संस्था” के माध्यम से कलेक्टर, एस. पी., डी.आई.जी., सभी विधायक, महापौर, मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री और राज्यपाल से मुलाकात कर गरीब जमाकर्ताओं के निवेश की राशि भुगतान कराने के लिए कई बार मदद की गुहार लगा चुके हैं। दुर्भाग्यवश किसी ने भी गरीबों का पैसा वापस दिलाने रूचि नही ली, अंतत: निवेशक और कवच संस्था के लोगों ने जोगी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी से मुलाकात कर उनसे मदद हेतु आग्रह किया।

यह भी देखें – राष्ट्रपति भवन में महिला सैनिक से बलात्कार, जांच में जुटी पुलिस

अमीत जोगी ने लंबी चर्चा की और अभिकर्ताओंं से कहा कि हमारी पार्टी – जनहित के इस गंभीर मामले को विधानसभा में उठायेगी, अमीत जोगी ने सलाह देते हुए कहा कि इस “हक और अधिकार की लडाई” में वे सीधे प्रदेश भर के लाखों गरीब जमाकर्ताओं को शामिल करें, जमाकर्ता स्वयं अपना आवेदन- बॉंड पेपर की छायाप्रति संलग्न कर सरकार के हाथों में आवेदन सौंपे और अपने खून पसीने की कमाई पैसे को वापस दिलाने की मांग करे। भूपेश सरकार को उनका वादा याद दिलायें और वादा निभाने मजबूर करे, एकता और संख्या बल से सरकारें बनती है और सरकारें गिरती है, अमीत जोगी कहते “नींबू, खुशियार और सरकार” ये तीनों को जब तक निचोंडोगे नही तब तक “रस” नहीं निकलता।

वहीं कवच जन कल्याण संस्था के प्रमुख सदस्यों ने बताया कि सहारा छत्तीसगढ़ प्रमुख पर एफ. आई. आर. उन सभी आरोपियों की गिरफ्तारी और सभी गरीब निवेशकों के शीघ्र भुगतान की मांग को लेकर हम, दिनांक 22 नवम्बर 2021 को सुबह 10 बजे से रायपुर के बूढा तालाब स्थित धरना स्थल पर एक दिवसीय आमरण अनशन, धरना प्रदर्शन कर निवेशकों का विशाल रैली निकालकर मुख्यमंत्री निवास का घेराव किया जाएगा, जिसमें जोगी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी से नेतृत्व करने कहा गया तो अमीत जोगी ने आश्वस्त करते हुए कहा कि हम और हमारी पार्टी सहारा इंडिया समूह के गरीब – पीडित निवेशकों को न्याय, हक और उनका अधिकार दिलाने प्रथम पंक्ति में खड़े मिलेगें।

Share This